inh24छत्तीसगढ़

कथित संत कालीचरण के गिरफ़्तारी के बाद सियासत गरमाई, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के बयान पर रायपुर पुलिस ने कहा यह

संत कालीचरण बाबा को खुजराहो से हिरासत में लिए जाने के बाद सियासत गरमा गई है। मामले में मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के बयान के बाद रायपुर पुलिस ने पूरी विधिक प्रक्रिया का पालन करते हुए कार्रवाई करने की बात कही है. वहीं कालीचरण को हिरासत में लिए जाने के बाद उसके वकील को सूचना देने की बात भी कही गई है.

बता दें कि कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी पर मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आपत्ति जताते हुए कहा था कि कालीचरण की गिरफ्तारी पर हमें आपत्ति है. संघीय नियम बिल्कुल ये इजाजत नहीं देती है. उन्होंने कहा कि मैंने मध्य प्रदेश के डीजीपी को निर्देश दिए हैं कि छत्तीसगढ़ डीजीपी से इसको लेकर बात करें.

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मध्य प्रदेश पुलिस को बगैर जानकारी दिए गिरफ्तारी करना यह गलत है. कालीचरण को नोटिस देकर भी बुलाया जा सकता था. कालीचरण की बिना इजाजत गिरफ्तारी संघीय ढांचे के खिलाफ है. किसी की व्यक्ति की गिरफ्तारी से पहले पुलिस की बताना जरूरी है.

इधर रायपुर पुलिस की ओर से जारी बयान में बताया गया कि थाना टिकरापारा के अपराध क्रमांक 578/21 के आरोपी कालीचरण उर्फ अभिजीत धनंजय सराग को मध्यप्रदेश के खजुराहो के पास से हिरासत में लिया गया है. हिरासत में लेने के बाद आरोपी के वकील को इसकी सूचना दी गई है. हिरासत में लेने के 24 घंटे के भीतर रायपुर पुलिस द्वारा न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर दिया जाएगा।

Related Articles

Back to top button