छत्तीसगढ़

नियमित योगाभ्यास की कक्षा योग आयोग की महत्वपूर्ण पहल, कलेक्ट्रेट गार्डन में योगाभ्यास कक्षा का शुभारंभ

महिला एवं बाल विकास समाज कल्याण मंत्री अनिला भेंड़िया ने आज राजधानी रायपुर के कलेक्ट्रेट गार्डन में स्वयं योगा कर नियमित योगाभ्यास कक्षा का शुभारंभ किया। छत्तीसगढ़ योग आयोग (समाज कल्याण विभाग) द्वारा आयोजित निःशुल्क योग प्रशिक्षण के अवसर पर आयोग की अध्यक्षा अनिला भेंड़िया ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में हमारा प्रदेश गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की ओर अग्रसर हो रहा है। नियमित योगाभ्यास की कक्षा का संचालन योग आयोग की महत्वपूर्ण पहल है। योग करने से ज्ञान और बुद्धि का विकास होता है।

उन्होंने कहा कि सभी आयु वर्ग के लोगों के लिए योग आवश्यक है। योग आयोग के अधिकारियों ने बताया कि मुख्यालय स्तर पर इसके अतिरिक्त 5 स्थानों और प्रत्येक विधानसभा स्तर पर एक निःशुल्क योग प्रशिक्षण के लिए नियमित योगाभ्यास कक्षाएं शुरू करने की योजना है।

मंत्री भेंड़िया ने बताया कि इस योग प्रशिक्षण के माध्यम से पूरे छत्तीसगढ़ को स्वस्थ और सुंदर बनाना चाहते हैं। इसमें आप सबकी भागीदारी और सहयोग रहेगा जिससे हम अन्य लोगों को स्वस्थ रहने के लिए मार्गदर्शन दे सकते हैं। उन्हें स्वस्थ रहने के लिए कह सकते आप सब जानते हैं कि ऋषि-मुनियों ने भी योग के माध्यम और रोगों से निजात पाया है।

कई बड़ी से बड़ी बीमारियां योग से दूर हुई है। योग के द्वारा रोगों से दूर रहा जा सकता है। योगाभ्यास से आज हम सब भी इस ओर आगे बढ़ रहे है। उन्होंने कहा कि आसपास के लोगों को योग के महत्व बताएं ताकि हम सभी स्वस्थ्य रहें। श्रीमती भेंड़िया ने उपस्थित लोगों को धन्यवाद देते हुए कहा कि समय निकालकर यहां आए और इस योगाभ्यास में आपकी सहभागिता महत्वपूर्ण है।

योगाभ्यास के दौरान वृक्षासन, कटीसौंदर्यासन, चक्कीआसन, भुजंगासन, मर्कटासन, हास्यासन और शवासन आदि का योगाभ्यास कराया गया। इस अवसर पर मुख्य मास्टर ट्रेनर छबीराम साहू ने प्राणायाम के द्वारा मन मस्तिष्क को केंद्रित कर मृगी मुद्रा में अनुलोम-विलोम आसन से शरीर को स्वस्थ रखने योगाभ्यास कर जानकारी दी।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button