inh24उत्तर प्रदेशदेश विदेश

पालघर VS बुलंदशहर हत्याकांड- बुलंदशहर में जानिए कैसे हुई दो साधुओं की हत्या, वारदात का घटनाक्रम

उत्तरप्रदेश के बुलंदशहर के अनूप शहर कोतवाली स्थित गांव पगोना में शिव मंदिर पर तकरीबन 10 सालों से साधु जगनदास और साधू सेवादास रहते थे। मंदिर परिसर में रहकर ही दोनों साधु मंदिर में पूजा अर्चना करते थे।

सोमवार की दरम्यानी रात मंदिर परिसर में दोनों साधुओं की धारदार हथियारों से हत्या कर दी गई। जब मंगलवार की सुबह गांव के लोग मंदिर में पहुंचे तो उन्हें साधुओं के खून से सने शव पड़े मिले। जिसकी जानकारी पुलिस गांव वालों को दी मामले की सुचना पर आला अधिकारी मौके पर पहुंचे।

पूछताछ में ग्रामीणों ने एक युवक पर शक जताया था। पुलिस ने पतासाजी की तो युवक को दो किलोमीटर दूर दूसरे गांव से अर्द्धनग्न अवस्था में गिरफ्तार किया गया। बता दें कि बीते 17 अप्रैल को महाराष्ट्र के पालघर में दो साधु और एक ड्राइवर की करीब 200 लोगों की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। कहा जाता है कि भीड़ ने इको वैन में बैठे दोनों साधु और उनके ड्राइवर को चोर समझ लिया था और फिर उनकी पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या कर दी।

Related Articles

Back to top button